• 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना ट्रासफार्मर यार्ड

  • 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना – 220 केवी स्विचयार्ड

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना विद्युत गृह जनेरेटर फ्लोर

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना स्विचयार्ड

कम्पनी

एनएचडीसी लिमिटेड (एनएचपीसी एवं मध्य प्रदेश शासन का संयुक्त उद्यम) जिसे दिनांक 24.06.2009 से पूर्व में नर्मदा हाइड्रौइलेक्टिकल ड्वेलप्मेन्ट कारपोरेशन के अन्य परम्परागत तथा गैरपरम्परागत संसाधनों जैसे ताप (थर्मल) पवन (विंड) से विद्युत का उत्पादन करने हेतु अपने कदम बढ़ाए है अत: इसी कड़ी में मध्य प्रदेश शासन द्वारा इंदिरा सागर जलाशय की परिधि में सुपर क्रइटिकल टेक्नोलॉजी आधारित 1320 मेगावाट क्षमता की "रेवा थर्मल पावर परियोजना' (आरटीपीपी) के निर्माण एवं विकास हेतु एनएचडीसी से एक समझौता ज्ञापन दिनांक 29.06.2009 को हस्ताक्षरित किया गया है। इस ताप विद्युत परि योजना को स्थापित करने हेतु एनएचडीसी अपने आंतरिक संसाधनों से धन जुटाएगी एवं इस परियोजना हेतु एकल हितग्राही राज्य "मध्य प्रदेश होगा। उपरोक्त के अतिरिक्त एनएचडीसी ने मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में स्थित ग्राम कुकरू में भी 100 मेगावाट क्षमता की पवन ऊर्जा विकसित करने हेतु स्थल चिन्हित किया गया है।

वर्तमान में एनएचडीसी मध्य प्रदेश राज्य की सबसे बड़ी आई.एस.ओ. 9001:2008 प्रमाठित जल विद्युत उत्पादक कंपनी है। इसकी दिनांक 31.03.2012 को प्राधिकृत हिस्सा पूँजी 3,000 करोड़ रूपये, परिसंपत्तियाँ 8241.09 करोड़ रूपये एवं प्रदत्त पूँजी 1962.58 करोड़ रूपये थी।


  • Design & Developed by Cyfuture