• 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना ट्रासफार्मर यार्ड

  • 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना – 220 केवी स्विचयार्ड

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना विद्युत गृह जनेरेटर फ्लोर

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना स्विचयार्ड

टैरिफ

एनएचडीसी केन्द्रीय उपक्रम संस्था होने के कारण विद्युत नियामक (सीईआरसी) एनएचडीसी के पावर स्टेशनों के प्रशुल्क का निर्धारण करता है। केन्द्रीय विद्युत नियामक आयोग ने सीईआरसी विनियम 2014 मे लागू टैरिफ के नियम और शर्तों के आधार पर इंदिरा सागर और ओंकारेश्वर पावर स्टेशनों के लिए 31 मार्च, 2019 तक की अवधि के लिए टैरिफ को मंजूरी दे दी है।

सीईआरसी प्रत्येक पावर स्टेशन के लिए हितग्राहियों से वसूले जाने वाले वार्षिक स्थायी प्रभार (एएफसी) का निर्धारण करता है। प्रचलित सीईआरसी विनियमों के अनुसार इस ए एफ सी जिसमें क्षमता प्रभार एवं प्रारंभिक ऊर्जा प्रभार समाहित है, की वसूली मासिक आधार पर तय करता है। इक्विटीपर लाभांश, मूल्यह्रास, ऋण पर ब्याज, कार्यशील पूंजी पर ब्याज और ओ एंड एम व्यय टैरिफ (एएफसी) के घटक हैं।

एबीटी व्यवस्था में उत्पादक क्षेत्रीय भार प्रेषण केन्द्र (आरएलडीसी), स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर (एसएलडीसी)द्वारा अंतिम रूप से निर्धारित दैनिक कार्यक्रम के अनुसार विद्युत का उत्पादन करता है। हितग्राही (एमपीपीएमसीएल) को एस एल डी सी द्वारा निर्धारित दैनिक कार्यक्रम के अनुरूप ग्रिड से विद्युत का आहरण करना होता है। ग्रिड के जो घटक अंतिम रूप से निर्धारित दैनिक कार्यक्रम से हटते हैं तो अनशेडउल्ड इंटरचेंज (यूआई) शुल्क लगाया जाता है। यूआई की दर ग्रिड आवृत्ति से निर्धारित होती हैं और लागू सीईआरसी के दिशानिर्देशों के अनुसार हैं। सीईआरसी के आदेशानुसार उपलब्धता आधारित प्रशुल्क को मध्य प्रदेश में 01.04.2007से क्रियान्वित किया गया है।

इंदिरासागर पावर स्टेशन : -
CERC issued the tariff of ISPS vide order dated 31.05.2016 for the period from 01.04.2014 to 31.03.2019. The tariff order can be viewed from the following link. ISP TARIFF ORDER

ओंकारेश्वर पावर स्टेशन :-
CERC issued tariff order of OSP on dated 26.05.2016 for the period from 01.04.2014 to 31.03.2019. The tariff order can be viewed from the following link. OSP TARIFF ORDER


  • Design & Developed by Cyfuture