• 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना ट्रासफार्मर यार्ड

  • 520 मेगावाट ओंकारेश्वर परियोजना – 220 केवी स्विचयार्ड

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना विद्युत गृह जनेरेटर फ्लोर

  • 1000 मेगावाट इंदिरासागर परियोजना स्विचयार्ड

संचालन / बिक्री से राजस्व

बिक्री एवं राजस्व
एनएचडीसी के थोक विद्युत ग्राहक म.प्र. पावर ट्रेडिंग कंपनी है जो मध्य प्रदेश राज्य का एक उपक्रम है। इंदिरा सागर पावर स्टेशन और ओंकारेश्वर परियोजना से उत्पन्न बिजली क्रमशः जनवरी 2004 और जुलाई 2007 से हितग्राही को आपूर्ति की जा रही है। पिछले 5 वर्षों के इंदिरा सागर पावर स्टेशन और ओंकारेश्वर पावर स्टेशन से बिक्री एवं शुद्ध लाभ का वर्षवार विवरण निम्नानुसार दिया गया हैः

वित्त वर्ष बिक्री
(करोड रुपय मे)
शुद्ध लाभ
(करोड रुपय मे)
1. इंदिरा सागर पावर स्टेशन :-
2013-14 928.54 508.20
2014-15 863.46 500.53
2015-16 687.61 398.62
2016-17 845.15 587.09
2017-18 470.20 356.43
2. . ओंकारेश्वर पावर स्टेशन :-
2013-14 955.88 563.50
2014-15 503.13 258.27
2015-16 456.09 231.39
2016-17 461.78 320.92
2017-18 314.71 226.78

बिलिंग

पीपीए की शर्तों के अनुसार, एनएचडीसी ने मासिक बिलिंग चक्र को अपनाया है। केन्द्रीयकृत रूप से बिलिंग निगम मुख्यालय स्तर पर एनएचडीसी के पावर स्टेशनों के लिए केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग (सीईआरसी) द्वारा जारी किए गए टैरिफ अधिसूचना के नियम और शर्तों के अनुरूप मासिक आधार पर की जाती है। एनएचडीसी के पक्ष में हितग्राही (एमपीपीएमसीएल) द्वारा डिमांड ड्राफ्ट / चेक के माध्यम से पुष्टि की गई, परिक्रामी, लेटर आफ क्रेडिट के माध्यम से भुगतान किया जाता है या प्राप्त होता है।
सीईआरसी के दिशानिर्देशों के अनुरूप शीघ्र बिलिंग हेतु हितग्राही को छूट दी जाती है। सीईआरसी के दिशानिर्देशों के अनुरूप बिलिंग के दिनांक से 60 दिवस से अधिक होने पर यदि हितग्राही द्वारा भुगतान नहीं किया जाता है तो 1.5 % प्रतिमाह की दर से अधिभार लगाया जाता है।


  • Design & Developed by Cyfuture